Home अपराध सुबह-सुबह गोलियों की तड़तड़ाहट से दहला मोतिहारी,बिजली विभाग के चर्चित संवेदक की...

सुबह-सुबह गोलियों की तड़तड़ाहट से दहला मोतिहारी,बिजली विभाग के चर्चित संवेदक की हत्या

178
0

बिहार के पूर्वी चंपारण जिले में मोतिहारी का इलाका शनिवार को गोलियों की अंधाधुंध तरतराहट से थर्रा उठा । बदमाशों ने बिजली विभाग के बड़े ठेकेदार ओमप्रकाश सिंह को गोलियों से छलनी कर दिया।
घटना शिवहर और पूर्वी चंपारण जिले के सीमा के पास फेनहारा थाना क्षेत्र के इजोरवारा गांव में हुई। अपराधियों ने ठेकेदार ओमप्रकाश पर शनिवार सुबह करीब 8 बजे अंधाधुंध फायरिंग करके दहशत मचा दिया। पुलिस को मौके पर 18 खोखे और जिंदा कारतूस गिरे हुए मिले।
जानकारी के मुताबिक शिवहर जिले के लक्ष्मीनिया गांव निवासी प्रमोद सिंह के पुत्र ओमप्रकाश सिंह उत्तर बिहार में बिजली विभाग के बड़े ठेकेदार थे। कई जिलों में उनका काम चल रहा है। शनिवार की सुबह वह अपने गांव से मोतिहारी की ओर जा रहे थे।
इसी बीच पूर्वी चंपारण जिले के फेनहारा थाना क्षेत्र के इजोरवाड़ा गांव में उन पर जानलेवा हमला कर दिया गया। बदमाश दूर से ही ओमप्रकाश सिंह का पीछा कर रहे थे। उनकी काली रंग की स्कॉर्पियो के पीछे अपराधियों की सुमो गाड़ी दूर से ही आ रही थी, मौका मिलते ही अपराधियों ने ठेकेदार की गाड़ी पर फायर करना चालू कर दिया।
अंधाधुंध फायरिंग में ठेकेदार की हत्या की सूचना मिलते ही मोतिहारी पुलिस के हाथ पांव फूल गए। कई थानों की पुलिस आनन-फानन में घटनास्थल पर पहुंची। ठेकेदार के शव को कब्जे में लेकर मोतिहारी सदर अस्पताल भेज दिया गया। घटनास्थल पर भीड़ जुट गई। पुलिस छानबीन कर रही है। मृत ठेकेदार की गाड़ी और मोबाइल पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है।

Previous articleबिहार की दुर्दशा के तीन मुख्य कारण हैं – शिक्षा, जमीन और पूंजी का नहीं होना, इसके लिए कांग्रेस, लालू, नीतीश और भाजपा सभी जिम्मेदार: प्रशांत किशोर
Next articleबिहार में जातीय जनगणना पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा रोक बरकरार रखने पर प्रशांत किशोर ने राज्य सरकार पर किया तंज, कहा – मैंने तो पहले ही कहा था, जातीय जनगणना राज्यों के अधिकार क्षेत्र में है ही नहीं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here