Home Uncategorized मुख्यमंत्री की सुरक्षा में आज फिर से हुई चूक पर सरायरंजन प्रखंड...

मुख्यमंत्री की सुरक्षा में आज फिर से हुई चूक पर सरायरंजन प्रखंड क्षेत्र के एक सामाजिक कार्यकर्ता का नीतीश कुमार जी के नाम खुला पत्र। पत्र में लिखा कि बीजेपी सीएम के प्रशासनिक विफलता को लोगों के सामने लाने का कर रही प्रयास।

713
0
सरायरंजन प्रखंड निवासी पूर्व पंचायत समिति सदस्य संजीव कुमार बागी द्वारा सीएम नीतीश के नाम खुला पत्र

नीतीश कुमार जी के नाम लिखा खुला पत्र।

नीतीश चच्चा के सभा में धमाका सुरक्षा में चूक नहीं सुशासन बाबू के चेहरे पर थूक है। चच्चा आप समझ नहीं रहे हैं बीजेपी आपको ऊच्छन्नर कर रही है। वह आपको उछवाद दे रही है ताकि आप बिहार छोड़कर दिल्ली चले जाएं और बिहार की गद्दी बीजेपी संभाले। आप असली बात समझिए नहीं रहे हैं। वह आपको बिछुआ काट रहा है,उंगली कर रहा है। अब आपके सुरक्षा बलों की सहायता लेकर बैक छोर से आपके लॉ एंड ऑर्डर को धूमिल करना चाह रही है ताकि आपकी विफलता लोगों तक पहुंचे तथा आपके खिलाफ मोर्चा खुले और आपको सत्ता से बेदखल कर देगी। जब घरों में रिश्तेदारों का आना जाना बढ़ जाता हो या मेहमान ज्यादा दिनों तक जम जाते हैं तो घर वाले खुलकर नहीं बोलते की आप चले जाइए। बस बच्चों से सरारत करवाते हैं,घरों में कलह की शुरुआत करवाते रहते हैं ताकि किसी तरह से कुटुम्ब भाग जाएं या जाने के लिए मजबूर हो जाएं। शायद आपके साथ फिलहाल यही हो रहा है क्योंकि हत्या करना किसी की मनसा नहीं है बस आपको तंग किया जा रहा है और इसकी आड़ में आपके साशन सत्ता का मजाक उड़वाया जा रहा है जैसे किसान खेतों से जंगली जानवरों को हरकाने के लिए पटाखे फोड़ते हैं ठीक उसी प्रकार आपको हड़काने के लिए बम पटाखे फोड़े जा रहे हैं। गौर करने वाली बात तो यह है की इतनी कड़ी सुरक्षा ऑटोमेटिक हथियार होने के वाबजूद आप खुद यानी बिहार के मुख्यमंत्री सुरक्षित नहीं हैं तो बिहार की आम आवाम कितनी सुरक्षित होगी जंग लगी राइफल के सहारे। आप समझिए ऊ बीजेपी के चाल को अगर नहीं समझेंगे तो कोई बात नहीं वक्त के साथ याद दिला देंगे। अरे मानते हैं की सत्ता का मोह नहीं छूट रहा है आपको पर हेहर थेथर जैसन बनकर मत रहिए। अगर थोड़ी सी भी जमीर जिन्दा बची है तो आप अपने स्वाभिमान को बचाइए महाराज नहीं तो आने वाली पीढ़ी भी आप पर थूंकेगी। ज्यादा तीखा लगे तो कुछ बिगार नहीं लीजिएगा काहे से की थप्पड़ मारने वाले का तो कुछ बिगाड़ नहीं पाए बम फोड़ने वाले को तो कुछ बिगाड़ नहीं पाए तो हमारा क्या बिगाड़ लीजिएगा। माफी तो मांगेंगे ही नहीं क्योंकि हमारा वाणी बम ही कुछ इस तरह का है झुलसिएगा नहीं।
“धन्यवाद”
बागी संजीव कुमार इन्कलाबी
उर्फ “भाई जी”

नोट यह पत्र बिना संपादित किए अक्षरश: प्रकाशित की गई है।

Previous articleबीडीओ के द्वारा किया गया विद्यालयों का औचक निरीक्षण। औचक निरीक्षण में अनुपस्थित पाए गए शिक्षकों पर होगी कार्रवाई।
Next articleखानपुर प्रखंड क्षेत्र के ग्राम पंचायत राज दिनमनपुर उत्तरी, रेबड़ा,भोरे जयराम एवम बछौली में आज जिला मुख्यालय से प्रतिनियुक्त वरीय पदाधिकारी ने 13 मानकों पर योजनाओं एवम संस्थानों की जांचकर सरकार को भेजी रिपोर्ट।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here