Home अपराध शराब कारोबारी हुए बेलगाम,खानपुर थाना क्षेत्र के मसीना में छापामारी करने पहुंची...

शराब कारोबारी हुए बेलगाम,खानपुर थाना क्षेत्र के मसीना में छापामारी करने पहुंची पुलिस टीम पर हुआ हमला,एक एएसआई सहित 5 घायल,4 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लेकर शुरू किया पूछताछ

494
0

समस्तीपुर जिला के खानपुर थाना क्षेत्र के मसीना गांव में शराब से जुड़ी छापामारी करने गई पुलिस टीम पर स्थानीय कारोबारी एवम उसके सहयोगियों ने किया हमला ।
घटना के संबंध में लोगों द्वारा बताया जाता है कि आज सोमवार की अहले सुबह शराब की खेप उतरने की गुप्त जानकारी पर खानपुर थाना की पुलिस मसीना गांव में शराब बरामदगी हेतु छापामारी को लेकर गई थी, पुलिस की गाड़ी देख कुछ कारोबारी भागने लगे और जब पुलिस एक दो लोगों को हिरासत में लिया तो तीसरे चौथे लोग आकर गाड़ी पर पथराव शुरू कर दिया,जिससे पुलिस की बोलेरो वाहन क्षतिग्रस्त हो गई । इस घटना में कुल 5 पुलिसकर्मी को भी गंभीर चोटें आई है, मौके से पुलिस ने 4 लोगों को हिरासत में लिया है जिनसे पूछताछ की जा रही है । छपरा में हुई जहरीली शराब से मौत बाद समस्तीपुर जिले की पुलिस पूरी तरह से अलर्ट मोड में है और लगातार शराब की तस्करी पर रोक लगाने को लेकर छापामारी कर रही है, इसी कड़ी में आज खानपुर थाना क्षेत्र के मसीना गांव में शराब तस्करों के ठिकाने पर छापेमारी करने गई खानपुर थाना पुलिस पर शराब तस्करों ने स्वजनों तथा समर्थकों के साथ अचानक हमला बोल दिया । लाठी, डंडा व ईट पत्थर के साथ अचानक हमला होते देख पुलिस कर्मी पीछे हटने लगे। देखते ही देखते ने असामाजिक तत्वों के लोगों ने पुलिस की वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया,इस हमले में एएसआई उमेश प्रसाद सिंह,जिला पुलिसबल के जवान अमित कुमार,नितेश कुमार,नंद किशोर कुमार एवम धर्मदेव महतो जख्मी एवम चोटिल बताए जा रहे हैं।घायल सभी को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खानपुर में इलाज कराया गया है।
खानपुर थाना अध्यक्ष विपिन कुमार ने बताया कि मसीना गांव के प्रसिद्ध अवैध शराब कारोबारी के घर पर जांच में शराब मिली थी जिसके बाद उक्त मुख्य आरोपी स्पोर्ट पर से भागने में कामयाब रहा वहीं उसके द्वारा हो हल्ला कर देने के बाद उसके अगल-बगल के लोगों ने मारपीट एवं गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया। मसीना गांव के लोगों ने दबी जुबान से यह बताया कि जिस शराब कारोबारी के घर पर छापामारी करने पुलिस टीम पहुंची थी शराब कारोबारी ने इस अवैध कारोबार से अब तक अकूत संपत्ति बना ली है और उप शराब कारोबारी के ऊपर कई जिलों की थानों में दर्जनों अवैध शराब कारोबार से जुड़े मामले से जुड़ी प्राथमिकी भी दर्ज है,उक्त शराब कारोबारी अपने राजनीतिक एवं प्रशासनिक रसूख की बदौलत वह अब तक पुलिस के पकड़ से बाहर रह रहा है।इस घटना से पूर्व में भी उक्त शराब कारोबारी के घर पर उत्पाद विभाग की टीम जब छापामारी करने के लिए पहुंची तब वहां भी उनके साथ दुर्व्यवहार किया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here