Home कृषि एवम पशु पालन खानपुर प्रखंड क्षेत्र में बूढ़ी गंडक नदी के बाएं तटबंध पर बाढ़...

खानपुर प्रखंड क्षेत्र में बूढ़ी गंडक नदी के बाएं तटबंध पर बाढ़ पूर्व सुरक्षात्मक कार्यों से बेखबर है महकमा।

392
0

समस्तीपुर जिला के खानपुर प्रखंड क्षेत्र से होकर गुजरने वाली बूढ़ी गंडक नदी के बाएं तटबंध पर बाढ़ पूर्व सुरक्षात्मक कार्यों को लेकर महकमा अब तक बेखबर है, इसका नतीजा यह है कि प्रखंड क्षेत्र के रजवाड़ा से लेकर त्रिमुहानी,सिवेसिंह पुर,नत्थुद्वार,बछौली,मुर्गियाचक, शाहपुर,भोरे जयराम,भवानीपुर,हरिहर पुर खेढी,कोठिया चक्की,बसंतपुर,शोभन,पिरखपुर, जहांगीरपुर कोठिया, इलमासनगर, मनवाड़ा,रैनी तक बांध में सैकड़ों जगह बांध की स्थिति जर्जर है। बांध में कहीं खिखिर, गीदर,चूहा आदि द्वारा बांध के खोद दिए जाने से स्थिति जर्जर है तो कहीं बांध पर रेनकट से परेशानी है,कहीं अतिक्रमण कर बांध पर सूखे जलावन, भुसकार, रखे जाने से उसके नीचे चूहों के बिल से बांध कमजोर है,कहीं बांध को काटकर सैकड़ों परिवार आशियाना बना चुके हैं।
भोरे जयराम से लेकर पीरखपुर तक बांध में हर वर्ष होता है बांध से पानी का तेज रिसाव, लोगों में रहता है बांध के टूटने का भय
भोरे जयराम में बूढ़ी गंडक नदी बाएं तटबंध में बांध के बिल्कुल ही बगल में सटकर ही गुजर रही है, जहां करीब 15 वर्षों से भी ज्यादा समय से बांध के किनारे नदी में कटावरोधी कार्य नहीं करवाए गए हैं, जिसके कारण अब तक यहां कटाव से कई बीघा कृषि योग्य भूमि नदी में समा चुकी है, वहीं शोभन पंचायत के बड़गांव चौक के पास भी कटाव की तेज समस्या है, जहां इस वर्ष अब बांध में ही कटाव होने की संभावना है क्योंकि वहां भी नदी बिल्कुल बांध के समीप आ चुकी है।
इन जगहों पर बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य पर विशेष ध्यान देते हुए कार्य करवाने की जरूरत है लेकिन जल संसाधन विभाग के अधिकारी धरातल पर इन चीजों के हकीकत से अब तक अनजान बने हुए हैं।

कोठिया चक्की स्लुईस गेट की स्थिति जर्जर
खानपुर प्रखंड क्षेत्र के पुरुषोत्तमपुर अन्नु पंचायत के हरिहरपुर खेढी गांव में बुधी गंडक नदी के बाएं तटबंध में बने स्लुइश गेट में भी गेट की स्थिति जर्जर है, जिससे पिछले वर्ष भी हिसाब हो रहा था जिसके कारण मसीना, बड़गांव की तरफ पूरा कृषि योग्य भूमि कई माह तक जल मग्न रहा एवं प्राथमिक विद्यालय मुसहर टोल पुरुषोत्तमपुर में कई माह तक पानी प्रवेश हो जाने के कारण शिक्षण कार्य बंद रहा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here